Tuesday, October 14, 2014

विचारधाराएँ

कर देती हैं पंगु
संवेदनाओं को
मेरे भीतर के आदमी को
मेरे कवि को ,
विचारधाराएँ
गठिया  रोग हैं।

 

Sunday, October 12, 2014

नींव

मकान की ही नहीं
रिश्तों की भी
होती है नींव

रिश्ते
कभी उनसे
आजाद नहीं हो पाते